Contact me हमसे संपर्क करे...

statesmanil `,`, ♥ ↔♥ Feel free to contact me. Your comments and advices are valuable for me. हमसे संपर्क करने में सहज महसूस करें. आपकी टिप्पणियां एवं सुझाव मेरे लिया मूल्यवान है.

क्रोध में अंधे बाप ने बेटी का कराया बलात्कार और....Angry Father (?) Killed her Daughter's Husband and Rap by His Man

  • This news is shocking to for every one. And this is provoke that where is society going on? Is this shows the relation between father and daughter? Or the relation of criminal and target person? Father not only killed her husband but also support to rap her? Oh! it how he done this? What do you thing?
  • http://www.bhaskar.com/2009/10/28/091028072929_father_murder_his_daughter.html
  • News Wednesday, October 28, 2009 07:25 [IST] Also in Print Edition, Pg.No. 4, in Delhi Edition
  • क्रोध में अंधे बाप ने बेटी का कराया बलात्कार और....
  • नई दिल्ली. एक गोत्र मेंशादी करने से नाराज लड़की के पिता पर सामाजिक बदनामी का डर इस कदर हावीहुआ कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर लड़की के पति की हत्या कर दी।
  • इतनाही नहीं वह क्रोध में इस कदर अंधा हो गया कि उसके साथियों ने उसके सामनेही लड़की को अपनी हवस का शिकार भी बनाया, लेकिन उसने कोई विरोध नहींजताया। इस दर्दनाक व शर्मसार करने वाली वारदात को राजधानी दिल्ली मेंदिवाली वाली रात अंजाम दिया गया। पुलिस ने लड़की के पिता समेत चारआरोपियों को गिरफ्तार किया है।
  • नार्दन रेंज के संयुक्त आयुक्तपुलिस कर्नल सिंह ने बताया कि 26 अक्टूबर को शिखा (बदला हुआ नाम) ने नरेलापुलिस थाने में आकर शिकायत की कि पिता दया सिंह ने अपने तीन साथियों केसाथ मिलकर उसके पति की बेरहमी से हत्या कर दी और पिता के दो साथियों नेउसके साथ दुष्कर्म भी किया। यह बात सुन कर पुलिस के पैरों तले जमीन खिसकगई। लड़की ने बताया कि यह वारदात दिवाली की रात की है।
  • वह गांवमहारा, गोहाना(सोनीपत) की रहने वाली है। उसे स्कूल के समय में ही गांव केही विरेन्द्र (24) नामक युवक से प्रेम हो गया। दोनों एक ही गोत्र के थे,लेकिन प्यार के आगे उन्होंने सामाजिक रीति-रिवाजों को अनदेखा कर दिया।वर्ष 2006 में दोनों ने अपने परिजनों को इसके बारे में बताया और शादी करनेकी इच्छा जाहिर की, लेकिन दोनों के घर वालों व अन्य गांव वालों ने इसेसिरे से नकार दिया। इसके बाद दोनों गांव से भाग निकले, जिसके बादविरेन्द्र के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया गया और गोहाना पुलिस ने उसेगिरफ्तार भी कर लिया।
  • विरेन्द्र के जेल में होने के समय शिखा केपिता ने जबरन उसकी शादी जिंद(हरियाणा) निवासी जयपाल के साथ कर दी। जबजयपाल को विरेन्द्र के साथ प्रेम प्रसंग का पता चला तो उसने शिखा कोपरेशान करना शुरू कर दिया। वह अपने मायके लौट आई। उधर, विरेन्द्र भी जमानतपर बाहर आ चुका था। मौका पाकर दोनों फिर गांव से भाग निकले और इस बारचंडीगढ़ में शादी करने के बाद पति-पत्नी की तरह रहने लगे।
  • चंडीगढ़से दोनों समालखा (हरियाणा) चले गए। 17 अक्टूबर 2009 को दोनों के गांव केयुवक संदीप ने उन्हें अपने नरेला स्थित घर बुलाया, जहां इनका जानकारइंद्रजीत भी आने वाला था। शिखा और विरेन्द्र दिवाली मनाने के लिए संदीप केघर पहुंचे, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि यह सारी साजिश शिखा के पितादयासिंह की है। वहां पहुंचने पर दया सिंह को देख दोनों स्तब्ध रह गए।
  • जिसकेबाद दया सिंह ने संदीप, इंद्रजीत व पवन के साथ मिलकर विरेन्द्र को बुरीतरह पीटने के बाद गला घोंट कर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद संदीप वइंद्रजीत ने शिखा के साथ दुष्कर्म भी किया और बाद में विरेन्द्र के शव कोमारुति वैन में ले जाकर सोनीपत स्थित एक नहर में फेंक दिया। पुलिस ने दयासिंह, संदीप(23), पवन(19) व इंद्रजीत(19) को गिरफ्तार कर लिया है तथामारुति वैन को भी कब्जे में ले लिया है।
Share on Google Plus

About Anil Kumar

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 CLICK for COMMENTs प्रतिक्रियाएं....:

Post a Comment