Contact me हमसे संपर्क करे...

statesmanil `,`, ♥ ↔♥ Feel free to contact me. Your comments and advices are valuable for me. हमसे संपर्क करने में सहज महसूस करें. आपकी टिप्पणियां एवं सुझाव मेरे लिया मूल्यवान है.

छात्रावास में चल रहा कालेज का कार्यालय College Running in Hostel Meant for ST Girls Student


In June 2008, when I visited my home I also went to Chatra College for submission of form for B.Ed. for my my brother Gautam's Friend. I was so surprised that there was no proper office and space there to run Education for +2 and Dregree in Arts, Science and Commerce. Not only this there is also IGNOU study centre, B.Ed. Centre and latest BCA centre also. I found that college office running in the hostel which was meant for ST girls Student for their education uplift-meant. But the situation is remaining in this year. Not only this District Administrative Office and Social Welfare Office is merely far than 200 Miters.


Other interesting thing about college is that they introduced a new course and called BCA in Chatra College. But on the prospectus they are calling it BCA in Arts, Science and Commerce. I did not understand what it means. But when I went to Perof. Alam' house on the occasion of Eid who is former Principal of this college. There was also current Principal and Teacher of Mathematics who is in charge of BCA. They told me that it will decide by the background of student. But I was not satisfied by them.




Sep 09, 2009. 11.40PM   (Online Edition) चतरा। कल्याण विभाग द्वारा अनुसूचित जन जाति की छात्राओं के लिए बनाया गया सौ बेड का छात्रावास पर चतरा महाविद्यालय ने कब्जा जमा लिया है। पिछले तीन वर्षो से महाविद्यालय का कार्यालय इस छात्रावास में संचालित है। परिणामस्वरूप छात्रावास के लिए लाखों की लागत से मंगाया गया बेड और बिस्तर बर्बाद हो चुका है। उपायुक्त के. श्रीनिवासन ने बताया कि कालेज प्रशासन छात्रावास का उपयोग अवैध रूप से कर रहा है। जिला प्रशासन ने उन्हें इसके उपयोग के लिए किसी भी प्रकार की अनुमति नहीं दिया है। उपायुक्त ने मामले की जांच कल्याण विभाग को करने का आदेश दिया है। इधर दूसरी ओर प्राचार्य टीएन सिंह का कहना है कि वर्तमान समय में कालेज में छह हजार छात्र-छात्राएं हैं। संख्या के अनुकूल भवन नहीं है। ऐसे में महाविद्यालय का कार्यालय सड़क पर नहीं चलाया जा सकता है। कालेज कैंपस में छात्रावास है, इसलिए उसका इस्तेमाल किया जा रहा है। एक प्रश्न के उत्तर में प्राचार्य ने कहा कि छात्रावास का इस्तेमाल उनके पूर्व के प्राचार्य के समय से किया जा रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार के कल्याण विभाग द्वारा जिले की अनुसूचित जन जाति छात्राओं को उच्च शिक्षा से जोड़ने के उद्देश्य से चतरा महाविद्यालय परिसर में एक सौ बेड का छात्रावास का निर्माण कराया था। इसका उद्घाटन वर्ष 2004 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने किया था। उद्घाटन करीब एक वर्ष के बाद से ही कालेज प्रशासन इसे अपने कब्जे में ले लिया और इसका इस्तेमाल कार्यालय के रूप में करते आ रहा है। बताया जाता है कि छात्रावास के लिए मंगवाया गया बेड़ और बिस्तर को एक कमरे में ऐसे ही बंद करके रख दिया गया है। परिणामस्वरूप लाखों का बेड़ और बिस्तरा बगैर उपयोग का ही नष्ट हो गया।



Share on Google Plus

About Anil Kumar

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 CLICK for COMMENTs प्रतिक्रियाएं....:

Post a Comment